Category Archives: Vipassana Meditation

कायागता स्मृति

*बुद्ध ने बत्तीस कुरूपताएं शरीर में गिनायी हैं। इन बत्तीस कुरूपताओं का स्मरण रखने का नाम कायगता—स्मृति है।* बुद्ध कहते हैं कि अपने शरीर में इन विषयों की स्मृति रखे—…

Mrutyu Mangal

मृत्यु  मंगल विपश्यना साधक के लिए मृत्यु मंगल है, अमंगल नही । सुहवनी है, भयावनी नही। अभिनंदनीय है, तिरस्करणीय नही । जब समय पकता है और आयु संस्कार पुरे होते…